Android Root Kya Hai – Root के फायदे और नुकसान क्या-क्या है?

Android Root Meaning in Hindi

अगर अपने भी बहुत बार android root के बारे में सुना है और आपके मन में ये सवाल जरूर आता होगा की आखिर android root क्या है? इसके साथ ही एंड्राइड फ़ोन root करने के क्या फायदे और नुक्सान है? इसी के बारे में आज के इस पोस्ट में बात करने वाले है।  

सभी फ़ोन में OS होता है जैसे अगर हम एंड्राइड फ़ोन इस्तेमाल करते है, तो हम android operating system इस्तेमाल कर रहे है। एंड्राइड सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किए जाने वाला operating system माना जाता है जो लगभग हर किसी के पास से मिल ही जाता है।   

Android Root क्या है – What is Android Root in Hindi


What is Android Root in Hindi

बहुत ही आसान भाषा में समझाऊ तो एंड्राइड root का मतलब की आप अपने एंड्राइड फ़ोन के किसी भी चीज़ में आसानी से बदलाव कर सकते है जैसे theme अपने हिसाब से customize करना, फ़ोन के notification bar को भी चेंज कर देना और भी बहुत सारी चीज़े एक रुट में किया जा सकता है।  

जो भी फ़ोन आपको मिलता है उन सभी में एक लिमिट होती है जिसके अनुसार आप इस्तेमाल करते हो लेकिन रुट करने पर ये सभी चीज़े टूट जाती है जिसे OS jail breaking भी कहा जाता है।  

Android Phone को Root कैसे करें ?

एंड्राइड फ़ोन रुट करने के लिए हम दो तरीको का इस्तेमाल कर सकते है पहला कंप्यूटर की मदद से और दूसरा  सिर्फ फ़ोन से, लेकिन इसमें से सबसे आसान तरीका फ़ोन वाला होता है, जिसको करने के लिए आपको Kingroot app की आवशयकता होती है, तो चलिए हम इसके संबंद में step by step प्रक्रिया देखते है जिससे आपको phone root करने में सहायता मिल सके।  

STEP 1: फ़ोन को रुट करने के लिए आपको Kingroot को इसके official website के जरिए latest version में अपने फ़ोन में डाउनलोड करना होगा जो एक Apk होता है उसके बाद इसको install कर लिया जाता है।   

STEP 2: Kingroot को अपने फ़ोन में डाउनलोड करने से पहले phone setting में जाकर Unknown sources को allow करना होगा क्योकि Kingroot app को Google playstore के बाहर से install किया जा रहा है इसीलिए ये करना बहुत जरुरी हो जाता है।  

STEP 3: Kingroot को डाउनलोड करने के बाद इसे open कर ले, जिसके बाद आपको बहुत सारे option देखने को मिल जाते है, जिसमे से “root access unavailable” लिखा हुआ दिखेगा जिसके नीचे ही get now का option भी होगा, जिसको click करके phone root किया जा सकता है।  

STEP 4: इसके बाद continue option पर क्लिक करते ही फ़ोन rooting की प्रक्रिया शुरू हो जाती है।  


STEP 5: ये सभी चीज़ें खत्म होने के बाद आपका फ़ोन पूरी तरह से root हो चुका होगा।  

Android Phone Root है या नहीं कैसे Check करें ?

Phone rooting की सभी तरह की प्रक्रिया पूरी तरह से खत्म होने के बाद आपके मन में ये सवाल जरूर आता होगा की आख़िर ये पता कैसे चले की phone root हुआ है या नहीं, तो इसे check करने के लिए आपको Google playstore से अपने फ़ोन में Root checker app को install करना होगा,जिससे आसानी से root status का पता लगाया जा सकता है।  

App को open करने के बाद अगर green colour status दिखता है, तो इसका मतलब आपका फ़ोन rooted है लेकिन अगर red colour status दिखेगा तो phone root नहीं है। जिसके बाद आपको पूरी तरह से पता लग जाएगा की फ़ोन phone rooted है या नहीं।   

Android Phone Rooting करने के फायेदे – Benefit of Android Root in Hindi 

1. Pre-installed apps को uninstall किया जा सकता है 

जब भी आप कोई नया फ़ोन ख़रीदते हो तो फ़ोन में पहले से ही कुछ preinstall apps डाउनलोड होते है जिनमें से कुछ apps की जरुरत नहीं होती है,जिन्हे हटाया नहीं जा सकता है, लेकिन rooted phone में इन apps को uninstall करना बहुत ही आसान हो जाता है।  


2. फ़ोन में ad-blocking हो सकता है 

जब भी हम कोई apps का इसतेमाल करते है तो हमारे काम के बीच बार बार ads आने लगते है और ठीक से काम भी नहीं हो पता है, जिससे बचने के लिए कुछ ads blocker आते है लेकिन फ़ोन में adblocker का इस्तेमाल करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है, अगर आपका फ़ोन रूटेड है तो आप इस सभी ads को आसानी से ब्लॉक करके अपने काम को कर सकते हो।  

3. फ़ोन का battery life और performance बढ़ जाता है     

फ़ोन को root करने पर फ़ोन की बैटरी लाइफ को बढ़ाया जा सकता है और साथ ही साथ उसके performance speed को भी बढ़ा सकते है। 

4. फ़ोन का Full Backup ले सकते हो 

एक बिना rooted phone में आप कुछ ही चीज़ों का backup कर सकते हो जैसे की फोटो, वीडियो, इत्यादि लेकिन root वाले फ़ोन में आप सभी चीज़ों का backup बहुत आसानी से कर सकते हो। 

5. कोई भी files या app डाउनलोड हो जाता है 

बहुत बार ये होता है की कोई apps के बहुत अच्छे फीचर्स है लेकिन हम इसको अपने फ़ोन में डाउनलोड नहीं कर सकते है क्योकि हमारा फ़ोन उस version का नहीं होता है लेकिन अगर फ़ोन root है तो आप कोई भी apps को फ़ोन में डाउनलोड करके इस्तेमाल कर सकते हो। 


इन्हे भी पढ़े – GB Whatsapp क्या है ?

Phone Rooting करने के नुकसान – Disadvantage of Android Rooting

एंड्राइड फ़ोन root करने के बाद तो आप बहुत तरह से customize कर सकते हो लेकिन इसके साथ ही इसके कुछ नुक्सान भी है जिसके बारे में जानना बहुत जरुरी है।  

1. फ़ोन रुट के warranty खत्म हो जाती है  


जब आप किसी फ़ोन को root करते हो तो उसके साथ साथ फ़ोन की warranty भी चली जाती है, और rooted phone को service center वाले भी ठीक नहीं कर पाते है।  

2. हैकिंग होने का बहुत डर होता है  

जब कोई फ़ोन rooting होता है तो उस दौरान फ़ोन के सारे limits को तोड़कर अंदर तक चला जाता है लेकिन इस स्थिति में अगर कोई malware या virus पहले से मौजूद होगा तो ये पुरे फ़ोन को हैक करके सभी डाटा ले लेता है।  

3. समय पर system Update नहीं मिलता है 

हलाकि एक rooted phone में latest version के किसी भी apps को डाउनलोड किया जा सकता है लेकिन rooted phone में सबसे बड़ी परेशानी की बात तब आती है जब फ़ोन में कोई update नहीं मिलता है, 

4. क्या मैं फ़ोन को फ्री में root कर सकता हूँ ? 

हां, android phone को root करना बिल्कुल ही फ्री है। 

5. क्या root करने से फ़ोन की warranty खत्म हो जाती है ? 

जी हाँ, क्योकि rooting करके आप कंपनी के द्वारा बनाए गए कुछ limits को तोड़कर फ़ोन OS तक चले जाते हो इसीलिए ये चीज़े warranty को खत्म कर देती है।  

6. फ़ोन rooting को और किस नाम से जाना जाता है ? 

Android phone को root करने को Jail-Breaking के नाम से भी जाना जाता है।  

आज आपने क्या सीखा?

मुझे उम्मीद है की हमारा ये post जिसमें एंड्राइड रुट क्या है? (what is android root in hindi) के बारे में जानकारी बहुत अच्छी तरह से मिला होगा, जिसको पढ़ने के बाद आपके मन में जो भी android rooting के जुड़े सवाल थे उन सभी के बारे में पता चल गया होगा।  

आप सभी के हमारे तरफ से निवेदन है की अगर ये पोस्ट से आपको आज कुछ android root kya hai के बारे में सिखने मिला हो तो इसे अपने दोस्तों और दुसरो के साथ भी जरूर शेयर करे ताकि उन्हे भी ये जानकारियाँ पता लग सके। अगर आपको इस लेख से संबंधित कोई doubts हो तो आप हमे comment के जरिए पूछ सकते हो। 


Related Posts-


What is Hardware in Hindi


PhonePe का Password कैसे बदले ?

Leave a Comment