SSD क्या है और SSD के कितने प्रकार होते है ?

What is SSD in Hindi

SSD के बारे में अपने शायद कई बार सुना होगा, लेकिन आपको इसके बारे में ठीक से पता नही होगा कि SSD क्या है? और इसके कितने प्रकार होते है? अगर आप market में अपने computer memory के लिए SSD लेते हो तो आपको तरह-तरह के SSD देखने को मिलते है, जिसको देखकर आपको समझ नहीं आता है की कौन सा SSD कंप्यूटर के सबसे बहेतरीन रहेगा।अगर आपको भी ये सभी जानकारी जानना है तो इस लेख को पढ़ सकते हो। जिसमें मैंने सभी जानकारी बहुत आसान शब्दों में बताया हैं।

SSD क्या है ? SSD Meaning in Hindi 

SSD एक तरह का flash storage device है, जिसे hard drive का new version भी कहा जा सकता है, जिसमें NAND technology का इस्तेमाल किया जाता है ताकि data read और write fast हो सके। HDD की तरह SSD भी data store करके रखता है, लेकिन HDD की तुलना में SSD बहुत तेज़ काम करता है।


SSD Meaning in Hindi

इसका सबसे बड़ा कारण यह है की HDD में moving parts लगे होते है जिससे data transfer होता है, लेकिन SSD में किसी तरह का moving part न होने के कारण  इसमें data read और write तेज़ गति से होता है जिससे data transfer में लगने वाला समय बहुत कम हो जाता है और computer तेज़ी से काम करता है।  

SDD को नई technology के द्वारा बनाया गया है, ताकि हमारा कंप्यूटर को और improve करके ज्यादा fast बनाया जा सके। SDD में लगने वाला power बहुत कम होता है, जिससे बिजली की बचत ही होती है। जबकि HDD के अंदर moving parts होने के कारण बहुत power consume करता है। इसके साथ ही वजन में ही काफी हल्का होता है। अपने कंप्यूटर को fast बनाने के लिए हम बहुत सारी चीज़े upgrade करते है उनमें से HDD की जगह SSD को install भी एक अच्छा विकल्फ माना जाता है। 

SSD काम कैसे करता है? (How SSD works in Hindi)


how ssd works in hindi

हालांकि, HDD और SSD दोनों का कार्य एक ही होता है, computer में data यानी files, videos, photos, इत्यादि को permanently store करके रखना होता है, लेकिन दोनों की कार्य करने की प्रक्रिया बिल्कुल अलग है, SSD इस्तेमाल करता है flash memory का ताकि data transfer speed तेज़ और high-performance मिल सके, SSD में आपको कोई moving parts देखने नहीं मिलता है, जिसके कारण इससे कोई आवाज भी नहीं आता है। 

SSD flash memory टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करता है, जो कंप्यूटर RAM memory की तरह ही काम करता है। इसके अंदर moving parts न होने की वजह से ये moving parts के ऊपर निर्भर नहीं रहता है।  ये data send और receive करने के लिए semi-conductor का इस्तेमाल करता है। 

SSD के प्रकार – (Types of SSD in Hindi)

NVMe SSD

ये NVMe SSD को साल 2013 में launch किया गया था, जो सबसे fast और latest SSD version होता है। ये SSD, PCI Express slot के साथ connected रहता है, जो हमारे computer CPU के motherboard में मौजूद होता है। इस slot का इस्तेमाल graphics card लगाने के लिए किया जाता है, ताकि computer की performance super-fast हो सके।  

ये SSD उन लोगो के लिए बहुत उपयोगी है जो अपने computer में gaming, high-quality video editing software का इस्तेमाल करते है, जिससे उन्हें किसी भी तरह की परेशानी काम के दौरान देखने नहीं मिलता है। NVMe SSD की performance speed सबसे तेज़ होने के साथ ही साथ इसकी कीमत भी बहुत अधिक होती है, जिसे सिर्फ desktop computer में ही लगाया जा सकता है। 

NVMe SSD के जरिए data transfer की अधिकतम speed 3,000 से 3,500Mbps या 3 – 3.5Gbps तक हो सकता है, जिससे किसी भी बड़े size के computer files को कुछ ही second में transfer किया जा सकता है। 

SATA SSD 

SATA (Serial Advanced Technology Attachment) lowest SSD माना जाता है जिसकी read/write speed लगभग Hard Drive की तरह ही होता है। SATA SSD को पहला generation का SSD भी कहा जा सकता है, जो बहुत प्रसिध्द SSD type है, जिसको लगभग सभी लैपटॉप और कंप्यूटर में आसानी से लगाया जा  सकता है, चाहे वो कंप्यूटर 10 पुराना ही क्यों न हो।    

इसकी अधिकतम data read/write speed लगभग 570 MB per second तक हो सकता है, जिसका इस्तेमाल आज भी बहुत सारे कंप्यूटर में storage के तौर पर किया जाता है। 


समय के साथ-साथ computer SSD model का version भी upgrade होकर बदलता गया, SATA SSD के मुख्य तीन प्रकार के version निम्नलिखत है –


SATA 1.0 – 5gb/s

SATA 2.0 – 3gb/s

SATA 3.0 – 6gb/s

M.2 SATA SSD 

ये M.2 SSD की data read write speed SATA SSD की तुलना में अधिक और high performance भी होती है। इस प्रकार की M.2 drive की size लगभग 22mm (width) और 800mm (length) तक हो सकती है, जिसे computer motherboard के M.2 slot में बिना किसी cable के जरिये connect किया जा सकता है। 

mSATA SSD 

ये SSD का अधिकतर उपयोग higher computer और laptop में किया जाता है। mSATA की latest version में upto 1TB और read/write speed लगभग 6gbps तक हो सकता है। इसमें low power consumption होता है। mSATA SSD की सबसे अच्छी बात यह है की इसकी durability 5 सालो तक हो सकती है।   

Advantage of SSD in Hindi

जब SSD को computer में लगाकर upgrade करने की बात आती है तो market में बहुत प्रकार के SSD मिलते है, जिनमें से हमारे कंप्यूटर के लिए सबसे अच्छा कौन-सा SSD होगा, जिसके लिए इसके फायदे और नुकसान के बारे में विस्तार से बताया है- 

1. SSD की reading/writing speed सबसे तेज़ होता है, जिसकी वजह से large size की files को तुरंत transfer किया जा सकता है। 

2. SSD में कोई moving parts न होने के कारण इसकी performance HDD की तुलना में बेहतर होती है।

3. SSD को काम करने के लिए बहुत कम power की जरूरत होती है। जिससे बिजली की बचत होती है।

4. इसमें कोई magnetic disc न होने के कारण इससे बहुत कम आवाज निकलती है। 

5. Market में SSD के काफी सारे storage capacity size मिलते है।

6. SSD की durability अधिक होती है, मतलब की अगर आपसे ये जमीन में गिर जाता है, तो ये ख़राब नही होता है।

Disadvantage of SSD in Hindi

1. HDD की तुलना में SSD की कीमत अधिक होती है।

2. SSD, NAND memory chip का इस्तेमाल किया जाता है, जिससे इसकी writing cycle limited होती है।

3. SSD memory से deleted data को recover करना बहुत मुश्किल हो जाता है, कई बार ये permanently भी delete हो जाता है, जिसे वापस नही किया जा सकता है।

4. HDD की तुलना में SSD की उपलब्धता market में कम होने के कारण कई बार आपको आपके मनचाहे storage capacity नहीं मिलती है।

आज आपने क्या नया सीखा ? 

मैं आशा करता हूँ कि आपको जो SSD क्या है? जानकारी प्रदान किया है, वो आपको पसंद आया होगा। इसके साथ ही SSD के प्रकार के बारे में भी बताया है, ताकि आपको SSD ख़रीदते समय कोई परेशानी न हो और आप सही SSD अपने कंप्यूटर के लिए ख़रीद सको।अगर आपको हमारा ये लेख अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर share करें, जिससे उन्हें भी SSD के बारे जानकारी मिल सके।

Computer SSD से संबंधित पूछे जाने वाले सवाल –

क्या SSD और HDD को एक साथ उपयोग किया जा सकता है ? 

हाँ, बिल्कुल किसी भी कंप्यूटर या लैपटॉप में storage के लिए दोनों का इस्तेमाल किया जा सकता है, इसमें कोई परेशानी नहीं होती है।  

कौन-सा बेहतर है? SSD या HDD 

अगर आपको computer में speed और performance चाहिए तो  SSD सबसे अच्छा रहेगा, लेकिन HDD की तुलना में SSD बहुत महॅगा होता है।

क्या सिर्फ SSD का उपयोग करके कंप्यूटर चलाया जा सकता है ? 

जी हाँ, आप सिर्फ SSD के जरिये भी कंप्यूटर में लगाकर आसानी से चलाया जा सकता है। 

कौन-सा कंप्यूटर SSD सबसे होता है ? 

NVMe SSD सबसे latest version का SSD होता है, जो data को बहुत तेज़ी से transfer करता है और इसकी performance भी fast होता है।    

Leave a Comment